Skip to main content

हेल्पलाइन

हेल्पलाइन

‘मन टॉक्स’ के हेल्पलाइन नंबर को प्रशिक्षित लोगों की टीम मैनेज करती है| इस टीम में मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े पेशेवर लोग शामिल हैं, जो आपको अपनी बात आसानी से और बिना किसी डर के शेयर करने में मदद करती है| यह टीम आपको ऐसा माहौल देती है, जहां आपके मन से ‘लोग क्या सोचेंगे’ का डर ख़त्म हो जाता है और आप अपनी बात बेझिझक रख पाते हैं| यह बातचीत पूरी तरह गोपनीय रखी जाती है और आपकी निजता का हर वक़्त ख़्याल रखा जाता है.

‘मन टॉक्स’ के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करने पर यह सुविधाएं मिलती हैं:

  • सुरक्षित और निष्पक्ष माहौल, जहां आपको अपने विचारों और चिंताओं पर स्पष्टता के साथ-साथ उनसे निपटने के तरीक़े बताए जाते हैं
  • आपकी चिंताओं को कैसे कम किया जा सकता है, इससे जुड़ी जानकारी
  • मानसिक स्वास्थ्य को लेकर सही फ़ैसले लेने में मदद और जानकारी
  • ज़रूरत पड़ने पर, परिवार के बाक़ी सदस्यों तक मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी मदद और सेवाओं की पहुँच

हम एक समावेशी मंच हैं और अलग-अलग पृष्ठभूमि, अनुभव, और कौशल से जुड़े लोगों को हमारी सेवाएं इस्तेमाल करने के लिए बढ़ावा देते हैं| हम किसी भी आधार पर कोई भेदभाव नहीं करते|

यह धारणा ग़लत है कि परेशानी बढ़ने पर ही हेल्पलाइन से मदद लेनी चाहिए| आप 'मन टॉक्स' से कभी भी संपर्क कर सकते हैं, ख़ासकर तब, जब आप भावनात्मक तौर पर ख़ुद को परेशान महसूस करें|

अक्सर हम दोस्तों और परिवार से बार-बार अपने दिल की बात कहने के बाद ख़ुद को दोषी महसूस करने लगते हैं| हमें लगता है कि हम उन्हें सिर्फ़ परेशान कर रहे हैं. साथ ही, हमें इस बात का भी डर सताता है कि वे हमारे बारे में क्या सोचेंगे| ऐसे में हम उनसे ज़रूरत से ज़्यादा निजी बातें शेयर करने से कतराते हैं|

हालांकि, 'मन टॉक्स' में आपको ऐसे प्रशिक्षित लोगों से अपनी बात शेयर करने का मौक़ा मिलता है जो पेशेवर तरीक़े से मानसिक स्वास्थ्य को समझते हैं. यह लोग आपको अपनी बात कहने का निष्पक्ष, सुरक्षित, और गोपनीय माहौल प्रदान करते हैं |

कई बार आपके क़रीबी लोग भी मानसिक स्वास्थ से जुड़ी परेशानियों से जूझ रहे होते हैं| आप यह समझ नहीं कर पाते कि उनकी मदद किस तरह करें| ऐसे में आप 'मन टॉक्स' की मदद ले सकते हैं| यहां आप यह समझ पाऐंगे कि अपनों की कैसे मदद की जाए और किस तरह उनका साथ दिया जाए, ताकि भावनात्मक तनाव से होने वाले नुक़सान को कम किया जा सके|

हमारी हेल्पलाइन पर कॉल करने पर, हमारे प्रतिनिधि (मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े प्रशिक्षित लोग) आपसे सम्मान के साथ भावनात्मक रूप से बात करते हैं| यह लोग पहले से कोई राय बनाए बिना, आपकी बात ध्यान से सुनते हैं|

'मन टॉक्स' में, हम निजता और गोपनीयता को काफ़ी महत्त्व देते हैं| कॉल करने वाले लोगों की गोपनीयता को बनाये रखना हमारी पहली प्राथमिकता होती है, ताकि उनकी पहचान, सम्मान, गरिमा बनी रहे|

कॉलर और मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े पेशेवर व्यक्ति के बीच होने वाली पूरी बातचीत गोपनीय रहती है| जब तक कि कॉलर या किसी दूसरे व्यक्ति की ज़िंदगी को कोई ख़तरा नहीं हो|